सूचना एवं प्रसारण विभाग भारत सरकार से पंजीकृत - RNI UPHNI-5653/2001,54
Home - Rajyavaar 12-01-2018

अजमत-ए-औलिया कान्फ्रेंस : बनके खैरूल वरां आगये मुस्तफा,,हम गुनहागारों की बेहतरी के लिय- क़ारी फसीह मजीबी

फर्रूखाबाद। (अनवर पठान )मुस्लमानो अगर दुनिया और आखिरत की कामयाबी चाहते तो बो तुम्हे अल्लाह की इबादत में मिलेगी नमाज मिलेगी इसलिए हराम कामो से बचो और अल्लाह की रस्सी को मजबूती से पकड़ लो नमाज कामयावी की सीड़ी है। अगर तुम अब भी ना सुधरे तो तबाह औ बरबाद नजर आओगें। मेम्बर मुस्लिम पर्सनलॉ बोर्ड मौलाना यासीन अली उसमानी ने ने अजमत-ए-औलिया कान्फ्रेंस मे खिताब के दौरान किया। दरगाह हुसैनिया मुजीबीया के सज्जादा नसीन कारी सैय्यद फसीह मुजीबी ने अपने कलाम से लोगो को नबी के इश्क मे दिवाना बना दिया। शहर के मोहल्ला नाला फिदाई खाँ मे उर्स हज़रत रौशन शाह के उर्स के मौके पर अजमत-ए-औलिया कान्फ्रेंस की महफिल सजाई गयी। जलसे का आगाज तिलाबते कुरआन पाक से हुआ। हाफिज अनवर रजा ने अपने खिताब मे कहा आज हमने अपने रब के हुक्म को छोड़ नवी के रास्ते से भटक गये जमाना हम पर आँखे दिखाने लगा तुम नबी के रास्ते पर आजाओ जमाना खूद रास्ते पर आजायेगा। मेम्बर मुस्लिम पर्सनलॉ बोर्ड मौलाना यासीन अली उसमानी ने कहा की नमाज कायम करो नमाज प्यारे नबी की आँखों की ठंडक है। हुसैनिया मुजीबीया के सज्जादा नसीन कारी सैय्यद फसीह मुजीबी ने अपने कलाम से लोगो को नबी के इश्क मे दिवाना बना दिया। उन्होने पढ़ा- बनके खैरूल वरां आगये मुस्तफा,,हम गुनहागारों की बेहतरी के लिये।आफताब आलम कादरी ,शहर काजी सैय्यद मुताहिर अली,मौलाना सरताज मुजीबी मजहर अब्बस अली,कारी तनवीर रज़ा ने नाते पाक के नजराने पेश किये । कानपूर से आये मौलाना नईम मसूदी ने जलसे की निजामत की। सलातो सलाम के साथ जलसे का समापन्न हुआ। फहीम राईन,अनवर राईन, सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

संबंधित खबरें

<< JANUARY 2018>>
SunMonTueWedThuFriSat
123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031
तस्वीर न्यूज़ :- संपर्क
© 2017 Tasveer News. All rights reserved. Powered by Pronto Web Solution