सूचना एवं प्रसारण विभाग भारत सरकार से पंजीकृत - RNI UPHNI-5653/2001,54
Home - Cinema 31-01-2017

पहली ही फिल्म से स्टार बनी थी ये हीरोइन, करियर रुका तो करने लगी \'चुनाव प्रचार\'

तस्वीर न्यूज़ नई दिल्ली ।क्या आपको फिल्म \'परदेस\' की हीरोइन महिमा चौधरी याद हैं ? वहीं महिमा चौधरी जिन्होंने अपनी पहली ही फिल्म में दमदार एक्टिंग की ऐसी छाप छोड़ी कि वो रातोंरात स्टार बन गईं। लेकिन आज ये हीरोइन कहां है, क्या आप जानते हैं ?महिमा चौधरी ने अब बॉलीवुड से पूरी तरह बना ली है और पिछले साल बस वो एक बंगाली फिल्म में ही नजर आईं। चकाचौंध की दुनिया से दूर महिमा अपनी घर-गृहस्थी को संभाल रहीं थीं लेकिन अब यूपी चुनाव के दौरान वो सड़कों पर वोट मांगती नजर आ रही हैं। हाल ही में वो यूपी की सिकंदराबाद सीट से एक निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थन में नामांकन कराने पहुंची थीं और उन्हें वहां देख हर कोई चौंक गया।अपने करियर की शुरुआत में लाखों लोगों के दिलों पर राज करने वाली \'परदेस गर्ल\' का अंदाज बदला बदला था। लेकिन ग्लैमर से इतने सालो की दूरी बनाए रखने के बाद भी उनके स्टारडम में कोई कमी नहीं आई और हर कोई उनसे मिलने के लिए आतुर था।पहली ही फिल्म से ब्लॉकबस्टर हीरोइन का तमगा पाने वाली महिमा चौधरी ने कई फिल्में कीं जिनमें उनकी एक्टिंग को काफी सराहा गया लेकिन सफलता का जो स्वाद उन्होंने पहली फिल्म में चखा वो उन्हें फिर नहीं मिला।

अपने एक दशक लंबे करियर में महिमा चौधरी ने \'दाग: द फायर\', \'प्यार कोई खेल नहीं\', \'लज्जा\', \'धड़कन\', \'ये तेरा घर ये मेरा घर\' जैसी कई फिल्में कीं जिनमें उनकी एक्टिंग को सराहा गया, लेकिन उनकी कई फिल्में असफल भी रहीं।2006 तक फिल्मों में काम करने के बाद महिमा चौधरी ने आर्किटेक्ट और बिजनेसमैन बॉबी मुखर्जी से शादी कर ली। शादी के बाद उन्होंने फिर से फिल्मों में वापसी की लेकिन इस बार उन्हें असफलता ही हाथ लगी और फिर 2008 में उन्होंने हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को पूरी तरह से अलविदा कह दिया।फिल्मों से दूर होने के बाद महिमा अपनी घर-गृहस्थी को संभाल रहीं थीं लेकिन कहीं ना कहीं उनके मन में इस बात का मलाल था कि उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री छोड़ दी। एक तरफ फिल्मों से नाता छूटा तो वहीं दूसरी तरफ उनकी शादीशुदा जिंदगी में भी भूचाल आ गया और आखिरकार 2013 में महिमा चौधरी का अपने पति से तलाक हो गया। इसके बाद महिमा बिल्कुल अकेली हो गईं।अपनी 8 साल की बेटी को संभालने के लिए उन्हें कोई ना कोई काम तो चाहिए था, शायद इसीलिए साल 2015 में फिर से उन्होंने फिल्मों में किस्मत आजमाने की सोची। लेकिन इस बार उन्होंने बंगाली फिल्म इंडस्ट्री को चुना और फिल्म \'डार्क चॉकलेट\' की। हालांकि ये फिल्म बुरी तरह पिट गई।

खैर बुरे वक्त को भूलकर महिमा फिर काम में जुट गई हैं और इन दिनों चुनाव प्रचार में बिजी हैं।

संबंधित खबरें

<< JANUARY 2018>>
SunMonTueWedThuFriSat
123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031
तस्वीर न्यूज़ :- संपर्क
© 2017 Tasveer News. All rights reserved. Powered by Pronto Web Solution